Monthly Archive: November 2018

0

लोकोदय नवलेखन सम्मान के लिए पांडुलिपियां आमंत्रित

लोकधर्मी लेखन को बढ़ावा देने के लिए दिसम्बर 2015 में लोकोदय प्रकाशन की शुरूआत की गई थी। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया था कि युवा लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए प्रकाशन की ओर से नवलेखन सम्मान प्रारम्भ किया जाएगा। लोकोदय नवलेखन सम्मान का उद्देश्य उन युवा लेखकों...

0

उदयराज की कहानी ‘उसकी हंसी’

वह मुझे बन्धु कहकर बुलाती थी। साथ काम करती, साथ गप्पें करती, कभी – कभी गुमसुम हो कर बैठ जाती। मुझे उसका चुप बैठना एकदम अच्छा नहीं लगता, कोई न कोई बहाना बनाकर मैं उसके पास चला जाता, सरगोशी करता, आज मौसम उदास तो नहीं है… ‘फिर’ ? वह अपनी...