Category: साहित्य-जगत

0

विजय सिंह को जनकवि केदारनाथ अग्रवाल सम्मान 2020

केन के कवि केदारनाथ अग्रवाल की पुण्यतिथि 22 जून 2020 को जनवादी लेखक मंच एवं मुक्तिचक्र पत्रिका के तत्वाधान में छत्तीसगढ़ जगदलपुर के रहवासी जाने माने रंगकर्मी एवं कवि विजय सिंह को वर्ष 2020 का जनकवि केदारनाथ अग्रवाल सम्मान दिया जायेगा यह निर्णय “मुक्तिचक्र केदार सम्मान कमेटी बाँदा” ने लिया...

0

सुधीर सक्सेना को जनकवि केदारनाथ अग्रवाल सम्मान

Previous Next वरिष्ठ कवि सुधीर सक्सेना को 2018 के जनकवि केदारनाथ अग्रवाल सम्मान से नवाजा गया। मुक्तिचक्र और जनवादी लेखक मंच यह सम्मान प्रदान करता है। बाँदा और कालिंजर में 22 और 23 दिसम्बर को दो दिवसीय सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था। डीसीडीएफ स्थित कवि केदारनाथ अग्रवाल सभागार...

0

विष्णु नागर व सरिता कुमारी का कहानी पाठ

Previous Next कथा कहानी की एक गोष्ठी गांधी शांति प्रतिष्ठान में दिनांक 23 नवम्बर, 2019 को हुई . इस गोष्ठी में वरिष्‍ठ कथाकार विष्णु नागर ने अपनी कहानी ‘शैली मेरी,बाकी उसका’ व सरिता कुमारी ने  अपनी कहानी‘ज़मीर‘ का पाठ किया. इन दोनों कहानियों पर बोलते हुए वरिष्‍ठ कथाकार व ज्ञानपीठ...

0

कथा-कहानी की 13वीं गोष्ठी

कथा- कहानी की ओर से दिनांक 31 अगस्त 2019 को गांधी शांति प्रतिष्ठान में कहानी पाठ का आयोजन किया गया। यह गोष्ठी इस मायन में महत्वपूर्ण थी कि यह दूसरे साल की पहली गोष्ठी थी। पिछले साल कथा कहानी ने बारह गोष्ठियों का आयोजन किया जिसमें पच्‍चीस कथाकारों ने अपनी...

0

शम्भु बादल को जनकवि केदार सम्मान

22 जून को बाबू केदारनाथ अग्रवाल के निर्वाण दिवस के अवसर पर बांदा में आयोजित एक समारोह में कवि शंभू बादल को  “जनकवि केदारनाथ अग्रवाल सम्मान” से नवाजा गया। यह आयोजन जनवादी लेखक मंच द्वारा डीएवी कालेज के हाल में संपन्न हुआ। जैसा कि विदित है जनवादी लेखक मंच की...

0

हर शब्द हमारी पक्षधरता बतलाता है : पंकज बिष्ट

पंकज बिष्ट को दूसरा राजकमल चौधरी स्मृति सम्मान मेघ पांडे “यह पुरस्कार मुझे अपने लिए मिले पुरस्कारों में सबसे बड़ा लगा है क्योंकि यह एक लेखक की जीवन भर की कमाई के पैसे से प्रारंभ किया गया है। लगा जैसे नोबेल प्राइज मिल गया हो। हमारी अम्मा कहा करती थीं-...

0

अपने समय को रेखांकित करती कहानियां : कथा कहानी की 11वीं गोष्ठी

हरियश राय की रिपोर्ट दिनांक 15 जून, 2019 को गांधी शांति प्रतिष्ठान में कथा – कहानी की ओर से एक कथा गोष्ठी का आयोजन किया गया . गोष्ठी की शुरुआत में कथा कहानी के संयोजक हरियश राय ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि कथा कहानी का मकसद हमारे...

0

मौजूदा समय से मुठभेड़ करती कहानियां

दिनांक 6 अप्रैल, 2019 को कथा- कहानी की गोष्ठी गांधी शांति प्रतिष्ठान, नई दिल्ली में आयोजित की गई. इस गोष्ठी में वरिष्‍ठ कथाकार रमेश उपाध्याय ने अपनी कहानी ‘काठ में कोंपल’ व रचना त्‍यागी ने अपनी कहानी ‘ काला दरिया’ का पाठ किया.  रमेश उपाध्याय की कहानी पर बोलते हए...

0

बांदा की आबोहवा में कविता का अक्स

पिछले रविवार, सात अप्रैल को राजकीय महिला डिग्री कालेज बाँदा में जनवादी लेखक मंच, बाँदा और लोकोदय प्रकाशन की ओर से समकालीन कविता पाठ और परिचर्चा का आयोजन किया गया । इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अधिवक्ता संघ, बाँदा के अध्यक्ष श्री सुबीर सिंह  ने की और संचालन जनवादी लेखक...

0

2020 के मानबहादुर सिंह लहक सम्मान की घोषणा

कोलकाता से प्रकाशित चर्चित पत्रिका ‘लहक’ 2020 के लिए मानबहादुर सिंह लहक सम्मान की घोषणा कर दी है। अगले वर्ष ये सम्मान मधुरेश और कांति कुमार जैन को प्रदान किया जाएगा। यह सम्मान है, पुरस्कार नहीं। न ही इसमे किसी तरह की रचनाएँ आमन्त्रित की जाती हैं, न चयन की...

0

आज के समय में ब्रेख्त

पटना के महाराजा कांप्लेक्स में स्थित टेक्नो हेराल्ड में साहित्यिक संस्था ‘जनशब्द’ द्वारा जर्मन के प्रसिद्ध कवि बरतोल्ट ब्रेख़्त पर केंद्रित समारोह का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम दो सत्रों में आयोजित था। पहला सत्र ‘आज के समय में ब्रेख़्त’, जबकि दूसरा सत्र ब्रेख़्त को समर्पित कवि-सम्मेलन का था। कार्यक्रम...

0

कोलकाता में 2 दिवसीय साहित्यिक पत्रिका सम्मेलन

भारतीय भाषा परिषद ने 16-17 फरवरी को साहित्यिक पत्रिका सम्मेलन का आयोजन किया है, जिसमें देश भर से पहुंचने वाले संपादक-लेखक साहित्यिक पत्रिकाओं की दशा-दिशा, वर्तमान और भविष्य पर अपनी राय रखेंगे। भारतीय भाषा परिषद के प्रेक्षागृह में होने वाले इस दो दिवसीय सम्मेलन का उद्घाटन प्रसिद्ध हिन्दी कथाकार गिरिराज...

0

हम हर बार ,बार बार मिलेंगे बाबा रहीमदास

मानबहादुर सिंह लहक सम्मान 2019 के चौथे आयोजन के तहत दिनांक 24- 01- 2019 को दोपहर एक बजे रामघाट चित्रकूट (नवगाँव) स्थित रहीम की कुटिया में कविता पाठ एवं परिचर्चा गोष्ठी सम्पन्न हुई । गोष्ठी का संयोजन युवा कवि नारायण दास गुप्त ने किया एवं अध्यक्षता डा़ कर्णसिंह चौहान ने...

0

मौजूदा साहित्यिक परिदृश्य में लोकोदय प्रकाशन का ऐतिहासिक हस्तक्षेप

अगर समाज में सबकुछ ठीक हो, सबकुछ अनुकूल हो तो लेखक कुछ नहीं लिख पाएगा क्योंकि साहित्य की प्रासंगिकता विरोध में ही होती है। यह मानना है वरिष्ठ और मशहूर आलोचक कर्ण सिंह चौहान का। लखनऊ के लोकोदय प्रकाशन की ओर से “समकालीन साहित्यिक परिदृश्य और घटती पाठकीयता” विषय पर...

0

पुस्तक विमोचन व सम्मान समारोह

लोकोदय प्रकाशन द्वारा दिनांक 16-12-2018 को वन अवध सेण्टर (One Awadh Center), सिनेपोलिश, विभूति खण्ड, गोमती नगर, लखनऊ में अपराह्न 1.00 बजे से पुस्तक विमोचन व सम्मान समारोह का आयोजन किया गया है। इस कार्यक्रम में वरिष्ठ नवगीतकार मधुकर अष्ठाना को स्व. जगदीश गौतम स्मृति सम्मान से सम्मानित किया जाएगा...

0

लोकोदय नवलेखन सम्मान के लिए पांडुलिपियां आमंत्रित

लोकधर्मी लेखन को बढ़ावा देने के लिए दिसम्बर 2015 में लोकोदय प्रकाशन की शुरूआत की गई थी। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया था कि युवा लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए प्रकाशन की ओर से नवलेखन सम्मान प्रारम्भ किया जाएगा। लोकोदय नवलेखन सम्मान का उद्देश्य उन युवा लेखकों...

0

विष्णु खरे को हार्दिक श्रद्धांजलि

कवि-आलोचक-संपादक विष्णु खरे का जाना सचमुच हिन्दी साहित्य के लिए अपूरणीय क्षति है। लिटरेचर प्वाइंट की ओर से उन्हें हार्दिक श्रद्धांजलि। वे हमारे दिलों में अमर रहेंगे। उनकी इस कविता को पढ़िए और महसूस कीजिए कि वो कितने महान कवि थे।   नींद में कैसे मालूम कि जो नहीं रहा...

0

नीलाम्बर द्वारा ‘लिटरेरिया’ साहित्योत्सव का आयोजन

आनन्द  गुप्ता कोलकाता की साहित्यिक और सांस्कृतिक संस्था नीलाम्बर द्वारा 12 से 15 अक्टूबर 2017 के बीच चार दिवसीय साहित्योत्सव ‘लिटरेरिया’ का शानदार आयोजन किया गया। गौरतलब है कि इस संस्था ने इस उत्सव के लिए किसी भी प्रकार का सरकारी या कॉरपोरेटी मदद नहीं लिया है। प्रथम दिन 12...

1

दीपक अरोड़ा स्‍मृति पांडुलिपि प्रकाशन योजना-2017 हेतु पांडुलिपियां आमंत्रित

कवि दीपक अरोड़ा की स्‍मृति में शुरु की गई पांडुलिपि प्रकाशन सहयोग योजना के दूसरे वर्ष के लिए बोधि प्रकाशन की ओर से हिन्‍दी कविता पुस्‍तकों की पांडुलिपियां सादर आमंत्रित हैं। पहले वर्ष में पांच पुस्‍तकों का चयन किया गया था- जिनका प्रकाशन हो चुका है। इस वर्ष तथा आने...

1

14 वें अंतरराष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन में वार्षिक साहित्यिक सम्मानों हेतु प्रविष्टियाँ आमंत्रित

रायपुर । अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हिंदी और हिंदी-संस्कृति को प्रतिष्ठित करने के लिए साहित्यिक वेब पत्रिका ‘सृजनगाथा डॉट कॉम’ द्वारा पिछले 13 वर्षों से प्रतिवर्ष दिए जानेवाले सम्मानों/पुरस्कारों के लिए हिंदी के रचनाकार, प्रकाशक, संपादक, साहित्यिक संस्थाएं एवं अनुशंसक पाठक प्रविष्टियाँ 30 जून 2017 तक प्रेषित कर सकते हैं ।...