Category: Uncategorized

0

সবুজ নীলের দেশে, সাদা কালোর দেশে

বেড়াতে যেতে চান অথচ অনেকদিন ঘোরা হয়নি?  পিউ দাশের ট্রাভেলগ সবুজ নীলের দেশে, সাদা কালোর দেশে । প্রতি রবিবার ও বুধবার পড়ুন পিউর ভ্রমনকাহিনী।আজ ষষ্ঠ পর্ব। বারোই মার্চ কানের কাছে মোরগের (আর হয়তো মুরগীরও) চিৎকার চেঁচামেচিতে ঘুম ভাঙল। ভাঙল তো ভাঙল, কোনওভাবেই আর সেই ঘুম জোড়ার কোনও উপায়ও রইল না।...

2

डी एम मिश्र की 5 ग़ज़लें

1. दूर से बातें करो अब वो विधायक है कम मुलाकातें करो अब वो विधायक है। खुद अँधेरे में रहो उसके लिए लेकिन चॉदनी रातें करो अब वो विधायक है। नोट की माला पिन्हाओ, थैलियाँ लाओ धन की बरसातें करो अब वो विधायक है। जन्मदिन उसका मनाओ खुद रहो भूखे...

2

मिहिर कुमार की 7 कविताएं

एक मत पूछो कि कौन हो तुम मेरे मन का मौन हो तुम मेरी ताकत मेरा ख्वाब हो तुम खुशबू से भीना अहसास हो तुम दूर हो के भी सबसे पास हो तुम घुप्प अंधेरे में चांद बन के मेरे मन के आसमान में चमकती हो तुम रात भर ओस...