कथाकार कपिल आर्य का सम्मान

‘सहज व्यक्तित्व वाले कपिल आर्य ने अपने लेखन और संगठनात्मक कार्य से सभी पीढ़ियों को प्रभावित किया  है’ ये कहना है प्रबुद्ध आलोचक-संपादक डॉ श्रीनिवास शर्मा का। मौका था पश्चिम बंगाल प्रगतिशील लेखक  संघ के अध्यक्ष और कथाकार कपिल आर्य के सम्मान का। सम्मान समारोह का आयोजन 7 मई को राष्ट्रीय बिहारी समाज और हिंदी निगरानी  संस्थान, कोलकाता ने भारतीय भाषा परिषद में किया था।
समारोह के विशिष्ट अतिथि और सुप्रसिद्ध पत्रकार विश्वंभर नेवर को कपिल आर्य में केवल कथाकार ही नहीं बल्कि एक मित्र और साधारण इंसान की छवि दिखती है। इस अवसर पर कपिल आर्य को शॉल और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। समारोह में  डॉ शंभुनाथ, नवल, आलोक शर्मा, विद्या भंडारी, जितेंद्र सिंह, डॉ ब्रजमोहन सिंह, राज्यवर्द्धन, प्रियंकर पालीवाल, डॉ गीता दूबे, अगम शर्मा, डॉ उषा शॉ, विनय बिहारी सिंह, सेराज ख़ान बातिश, काली प्रसाद  जायसवाल, रंजीत भारती, रंजीत यादव, ओम प्रकाश ने भी कपिल आर्य के व्यक्तित्व और कृतित्व पर चर्चा की। कार्यक्रम  का संचालन डॉ आशुतोष ने किया और धन्यवाद ज्ञापन मणि प्रसाद सिंह ने किया। कार्यक्रम के आयोजन में आरती सिंह की भूमिका  अहम रही।

You may also like...

Leave a Reply