Tagged: letter

1

रमेश शर्मा की पांच कविताएं

  रमेश शर्मा जन्म: 06.6.1966, रायगढ़ छत्तीसगढ़ में . शिक्षा: एम.एस.सी. (गणित) , बी.एड. सम्प्रति: व्याख्याता सृजन: एक कहानी संग्रह मुक्ति 2013 में बोधि प्रकाशन जयपुर से प्रकाशित . छह खंड में प्रकाशित कथा मध्यप्रदेश के छठवें खंड में कहानी सम्मिलित . *कहानियां: समकालीन भारतीय साहित्य , परिकथा, हंस ,पाठ...

3

शुक्ला चौधरी की पांच कविताएं

युद्ध और जीवन बहुत पेचीदा मामला है ये युद्ध हुआ युद्ध तो भी मैं सोचूंगी अपने बारे में ही कि किस तरह तुम तक पहुंचू और तुमसे कहूं कि लो मुझे छू कर बैठो शायद- पृथ्वी बच जाए. दुनिया इस फूल पर से गुज़रकर कोई युद्ध नहीं होगा/यहीं फूल को...

1

निर्मल गुप्ता की दो कविताएं

संवाद का पुल मैं लिखा करता था अपने पिता को ख़त जब मैं होता था उद्विग्न ,व्यथित या फिर बहुत उदास जब मुझे दिखाई देती थीं अपनी राह में बिछी नागफनी ही नागफनी यहाँ से वहां तक। मेरा बेटा मुझे कभी ख़त नहीं लिखता फ़ोन ही करता है केवल उसकी...

0

हेमन्त वशिष्ठ की कविता ‘आधी बची है रात ‘

कविता : हेमन्त वशिष्ठ फोटो : पंकज जैन   एक लफ्ज़ भिजवाया है … ढलती शाम के साथ… लिख रहा हूं बाकी पयाम… अभी आधी बची है रात… हर पहर से इकरार है इंतज़ार का … आहिस्ता आहिस्ता… हर लम्हा चुन रहा है अल्फाज़… एक लफ्ज़ भिजवाया है … ढलती...