बी आर विप्लवी की रचना प्रक्रिया : आदमियत का आरजूनामा

राजकिशोर राजन मानवता का दर्द लिखेंगे माटी की बू-बास लिखेंगे हम अपने इस कालखंड का एक नया इतिहास लिखेंगे जब मैं अपने समय के एक महत्वपूर्ण गजलकार बी.आर.विप्लवी के रचना कर्म से गुजर रहा था तो अदम गोंडवी की ये पंक्तियाँ रह-रह कौंध जा रही थी। कारण कि विप्लवी जी...